blogid : 760 postid : 583149

शो-पीस बनना मेरी किस्मत नहीं !!

Posted On: 21 Aug, 2013 मेट्रो लाइफ में

  • SocialTwist Tell-a-Friend

बी टाउन देश-विदेश के कलाकारों को भरपूर मौका देता है। खासकर अभिनेत्रियों के मामले में। मिस श्रीलंका जैक्लीन फर्नाडीज ऐसी तारिकाओं की फेहरिस्त में आती हैं। उन्होंने छह साल पहले सुजॉय घोष की अलादीन से अपने करियर की शुरुआत की। फुल फ्लेज हीरोइन के तौर पर उनकी लेटेस्ट हिट फिल्म रेस 2 थी। आगे वे सलमान खान स्टारर किक में नजर आएंगी। बहरहाल हाउसफुल 2 हिट होने के बाद से वे सीक्वल क्वीन के नाम से मशहूर हो गई। इन दिनों उन्हें रमइया वस्तावइया के आइटम नंबर जादू की झप्पी के लिए खासी सराहना मिल रही है। उनके करियर ग्राफ पर एक नजर।


बटोरी है लोकप्रियता

जैक्लीन कहती हैं कि आइटम नंबर में क्या बुराई है? यह आपको बेइंतहा पॉपुलैरिटी दिलाता है। खुद की बात करूं तो वह चाहे धन्नो हो या फिर रेस 2 का गाना लत लग गई। सबने मेरी एक अलग पहचान स्थापित की। ये गाने कहीं से चिकनी चमेली, मुन्नी बदनाम और शीला की जवानी से कमतर नहीं। जैक्लीन सिर्फ शो-पीस बनकर नहीं रहना चाहतीं, हर तरह की भूमिका अदा करना चाहती हैं। स्टीरियोटाइप न हों, इसके लिए उन्होंने कुछ मजबूत फ्रेंचाइजी की फिल्में भी छोडीं। मसलन, कृष 3 व मर्डर 3। वे कहती हैं, फिल्म में मेरे लिए कुछ ख्ास नहीं था, इसलिए न कहा। राकेश रोशन व भट्ट साहब काबिल फिल्मकार हैं। वे जब दूसरी बार अपनी फिल्म के लायक समझेंगे, मैं उनकी फिल्म के लिए हाजिर हो जाऊंगी।


उन्होंने पेशेवर लाइफ में जरूर राकेश रोशन व भट्ट कैंप की फिल्मों को न कह कर रिश्ते खट्टे कर लिए, पर असल जिंदगी में वे बेहद मिलनसार हैं। वे अपनी समकालीन असिन व सोनम कपूर के भी काफी क्लोज हैं। सोनम को वे अपना फैशन गुरू मानती हैं।


स्टीरियो टाइप छवि नहीं

जैक्लीन स्टीरियोटाइप नहीं हो रहीं। पहले कॉमेडी फिल्में, अब ऐक्शन का तड़का लगा रही हैं। रेस 2 में उन्होंने ढेर सारे स्टंट किए। इसके लिए महीनों वियतनाम के कराटे इंस्ट्रक्टर से उन्होंने ट्रेनिंग ली। उनकी कद-काठी ऐसी है, जिस पर स्टंट फिट भी बैठेंगे। वह ग्लैमर और ऐक्शन का मारक मिश्रण दर्शकों को दे रही हैं। समय के साथ उनकी प्रोफेशनल और पर्सनल लाइफ में ढेर सारे बदलाव हुए हैं। वे कहती हैं, मेरा आउटलुक व एटीट्यूड चेंज हुआ है, क्योंकि मैंने महसूस किया कि इस इंडस्ट्री में बदलना बहुत जरूरी है। यहां कंपिटीशन बहुत है। अगर आप समय के हिसाब से खुद को इंप्रूव नहीं करेंगे, नई चीजें नहीं करेंगे तो लोग आपको भूल जाएंगे। आपकी जगह कोई और ले लेगा। अलादीन और जाने कहां से आई है के बाद मेरे पास कोई एक्साइटिंग ऑफर नहीं आया। लेकिन अब मैं अपना रेंज दिखा रही हूं।

Web Title: Heroines in Bollywood




Tags:                 

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading ... Loading ...

3657 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments


topic of the week



latest from jagran